कलेक्टर हुए खफा, दो चिकित्सकों पर गिरी गाज

2177

Bikaner / khabarthenews.com

डीएचएस बैठक में अनुपस्थित रहे प्रभारी चिकित्साधिकारियों पर जिला कलेक्टर खफा रहे और 2 चिकित्सकों पर अनुशासनात्मक कार्यवाही के निर्देश दे डाले।

पीएचसी नाथूसर के डॉ. जगदीश स्वामी को लगातार बिना अनुमति अस्पताल व बैठकों से अनुपस्थित रहने पर एपीओ कर दिया गया जबकि राजासर भाटियान के डॉ. मुकेश को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

सीएमएचओ ने स्पष्ट किया कि बैठक में अस्पताल के प्रभारी ही पहुँचे ताकि जिम्मेदारी तय की जा सके।

जिला कलेक्टर कुमार पाल गौतम ने स्वास्थ्य भवन सभागार में आयोजित जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में अपने संबोधन से स्पष्ट कर दिया कि जिले के सभी कुपोषित बच्चों का चिन्हीकरण से लेकर उपचार और पोषण आपूर्ति में स्वास्थ्य व आईसीडीएस विभाग दोनों को पूर्ण समन्वय के साथ लगना होगा।

उन्होंने कुपोषण के नुकसान और सही पोषण के लाभ बच्चे की माँ तक पहुंचाने के लिए सघन जागरूकता की आवश्यकता जताई।

सीएमएचओ डॉ. देवेन्द्र चौधरी द्वारा नि:शुल्क दवा, जांच योजना, एएनसी, टीकाकरण, परिवार कल्याण, टीबी उन्मूलन व अन्य राष्ट्रीय कार्यक्रमों की विस्तृत समीक्षा की गई।

बैठक में आरसीएचओ डॉ. रमेश गुप्ता, डिप्टी सीएमएचओ डॉ. इंदिरा प्रभाकर, डॉ. योगेन्द्र तनेजा, डॉ. ओ.पी.सुतार, डॉ. नवल किशोर गुप्ता सहित समस्त जिला स्तरीय अधिकारी, बीसीएमओ, बीपीएम व ग्रामीण चिकित्साधिकारी प्रभारी उपस्थित रहे।

हर माह 2 अस्पतालों को देना होगा प्रगति का प्रेजेंटेशन

भविष्य में होने वाली प्रत्येक माह की डीएचएस बैठक में सभी अस्पताल प्रभारी अपने अस्पताल में और अपने सेक्टर में हुए कार्यों की प्रगति रिपोर्ट प्रेजेंटेशन के रूप में लेकर आएँगे और जिला कलेक्टर रैंडम किन्ही 2 की प्रेजेंटेशन देखंगे।

जिसमे उन्हें उस माह में हुई समस्त गतिविधियों और स्वास्थ्य सूचकांकों का लेखा जोखा देना होगा। साथ ही हर माह जिला एवं खंड स्तरीय अधिकारीयों की भ्रमण रिपोर्ट भी सदन के समक्ष रखने के निर्देश जिला कलेक्टर ने दिए।

वाट्सएप पर खबरों के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करें

https://chat.whatsapp.com/BH8MzpmL4VYHcjOR46E6fo

अपना उत्तर दर्ज करें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.