कलक्टर व रांका ने बालिका गृह में मनाया रक्षाबंधन

0
2220

बीकानेर। बालिका गृह की बच्चियों और नारी निकेतन की महिलाओं के लिए स्वतंत्रता दिवस और रक्षाबंधन पर्व का उल्लास उस समय दोगुना हो गया, जब जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम उनके बीच ये त्यौहार मनाने पहुंचे।
बालिका गृह के उड़ान सदन में गुरूवार को आयोजित इस कार्यक्रम में गौतम ने कहा कि इन बच्चियों की देखभाल का कार्य अत्यंत प्रेरणादायक एवं अनुकरणीय है।

उन्होंने कहा कि बच्चियों को यहां पारिवारिक वातावरण मिल रहा है, जिससे वे सुयोग्य नागरिक बन सकेंगी। यह हमारा सामाजिक उत्तरदायित्व है कि इन बच्चों का सर्वांगीण विकास हो सके, इस जिम्मेवारी को हमें पूर्ण निष्ठा से निभाना चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसे बच्चों के लिए एक आवासित विद्यालय शुरू करने के प्रयास किए जा रहे हैं। एनजीओ के माध्यम से जिला मुख्यालय अथवा देशनोक में ऐसा विद्यालय खोला जाएगा।

बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत यह कार्य किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इन बच्चों के हम सब अभिभावक हैं। आवश्यकता इस बात की है कि बच्चियों की देखभाल के इस पुनीत कार्य से अधिकाधिक लोग जुड़ें। उन्होंने कहा कि बच्चियां किसी भी समस्या या परेशानी के संबंध में उन्हें बेझिझक फोन कर सकती हैं। उन्होंने बच्चों से कहा कि वे पूरा मन लगाकर पढ़ाई करें।

पूर्व यूआईटी चेयरमेन महावीर रांका ने मस्त मंडल सेवा संस्थान की गतिविधियों की जानकारी देते हुए कहा कि शीघ्र ही बालिका गृह को एलईडी टीवी व कंप्यूटर उपलब्ध करवाएं जाएंगे। बालिका गृह से जुड़े लक्ष्मण राघव ने बताया कि तत्कालीन जिला कलक्टर आरती डोगरा के प्रयासों से इन बच्चियों को यह सुविधाएं मिलनी आरंभ हुई थीं। बालिका गृह अधीक्षक कविता स्वामी ने बताया कि वर्तमान में यहां 9 बच्चियां रह रही हैं, जिनमें से 6 बच्चियां प्रतिष्ठित स्कूलों में अध्ययनरत हैं।

बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष वाई के शर्मा ने जिला कलक्टर को बालिका गृह में और सुविधाएं विकसित करने की बात कही। भावुक हुए कलक्टर- कार्यक्रम के दौरान अनेक ऐसे पल आए जब जिला कलेक्टर भावुक हो गए। जब एक बच्ची किसी बात पर रूआंसी हुई, तो जिला कलेक्टर ने ‘रोते रोते हंसना सीखोÓ गाना गाकर उसको चुप करवाया।
चेहरों पर छायी खुशी- इस दौरान बालिका गृह में आवासित बच्ची रूबी का जन्मदिन, केक काटकर सेलिब्रेट किया गया। बच्चियों ने सभी अतिथियों को राखी बांधी व उन्हें रक्षाबंधन व स्वतंत्रता दिवस संबंधी हस्तनिर्मित आकर्षक कार्ड भेंट किये। जिला कलक्टर ने बच्चियों को उपहार व चॉकलेट दिए। बच्चों ने गाने सुनाए व अतिथियों ने भी गीत सुनाकर बच्चों की हौसला अफजाई व मनोरंजन किया। नारी निकेतन की महिलाओं ने भी जिला कलक्टर को राखी बांधी।

इस अवसर पर प्रशिक्षु आईएएस अभिषेक सुराणा, एडीएम सिटी शैलेंद्र देवड़ा, एडीजे पवन कुमार अग्रवाल, यूआईटी सचिव सुनीता चौधरी, एसडीएम कैलाशचंद्र शर्मा, उप निदेशक जनसंपर्क विकास हर्ष, राजस्थानी भाषा, साहित्य एवं संस्कृति अकादमी के सचिव शरद केवलिया, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक एल डी पंवार, नारी निकेतन अधीक्षक शारदा चौधरी, दीपाली धवन, सुरेंद्र कुमार उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here