डबल विरोध : फीकी रही राजनाथ सिंह की चुनावी सभा, मेघवाल की जमकर हुई तारीफ

2210

Bikaner / khabarthenews.com

बीकानेर लोकसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी अर्जुनराम मेघवाल की खिलाफत करने वाले पूर्व मंत्री देवी सिंह भाटी के गढ़ में सोमवार को गृहमंत्री राजनाथ सिंह चुनावी सभा में पहुंचे। यह चुनावी सभा पूरी तरह से फीकी नजर आई, सभा में भीड़ का आंकड़ा न्यूनतम रहा। बताया तो यह भी जा रहा है कि जिस समय अर्जुन मेघवाल भाषण देने लगे आगे की पंक्ति में बैठे कई लोग उठ कर जाने लगे। लोगों में यह भी चर्चा रही कि कोलायत देवी सिंह भाटी का गढ़ है साथ ही कांग्रेस विधायक भंवर सिंह भाटी भी वहीं से चुनाव जीते हैं। ऐसे ‘डबल विरोध’ में अर्जुन मेघवाल ने किस तरह से यहां गृहमंत्री राजनाथ सिंह की चुनावी सभा आयोजित करने का निर्णय लिया।

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को अर्जुनराम मेघवाल के समर्थन में सभा को संबोधित किया। इस दौरान राजनाथ सिंह ने कहा कि कोलायत कपिल मुनि की तपोभूमि है, ऐसे में महर्षियों की भूमि बीकानेर को नमन करता हूं।

इसके बाद राजनाथ ने अर्जुनराम मेघवाल के पक्ष में वोट मांगते हुए कहा कि अर्जुनराम मेघवाल जो कहते हैं वो करते हैं। साथ ही उन्होंने अर्जुनराम मेघवाल को 24 कैरेट का प्रत्याशी भी बताया। अपने संबोधन के दौरान गृह मंत्री ने अर्जुनराम मेघवाल के समर्थन में जमकर पुल बांधे। इस दौरान राजनाथ सिंह ने पीएम नरेंद्र मोदी के कार्यों की भी जमकर तारीफ की।

जब हमने इंदिरा गांधी को दुर्गा कहा तो अब पीएम मोदी की जय-जयकार क्यों नहीं

अपने संबोधन में आगे बोलते हुए केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि आपकी अर्जुन मेघवाल से नाराजगी हो सकती है लेकिन आपको देश बनाने के लिए बीजेपी को वोट देना है। राजनाथ सिंह ने कहा कि जब हमने इंदिरा गांधी को दुर्गा कहा तो अब पीएम मोदी की जय-जयकार क्यों नहीं।

पाक जाने वाले पानी को रोका जाएगा

वहीं बीकानेर लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी अर्जुनराम मेघवाल ने अपने पिछले पांच साल के कार्यकाल के बारे में बात करते हुए कहा कि कोलायत क्षेत्र में सड़क व रेलवे के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य हुए है। ऐसे में अगर दौबारा मुझे यहां की जनता सेवा करने का मौका देती है तो 2019 से 2024 के काल खंड में कोलायत सोलर व माइनिंग हब बन जाएगा। साथ ही उन्होंने पाक जाने वाले पानी को भी रोकने की बात कहीं। इस दौरान मेघवाल ने राजनाथ सिंह को ‘डिप्टी लीडर इन हाउस’ बताते हुए आतंकवाद और नक्लवाद पर नकेल कसने की बात भी कहीं।

इस दौरान कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए उन्होंने कहा कि अगर देश से कांग्रेस खत्म हो जाए तो गरीबी अपने आप खत्म हो जाएगी। राजनाथ ने कहा कांग्रेस ने गरीबी हटाओ का नारा ही दिया। लेकिन कुछ किया नहीं। उनकी कथनी और करनी में अंतर के कारण भारत की राजनीति में विश्वास का संकट पैदा हुआ है। उन्होंने यहां भाजपा प्रत्याशी केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल के समर्थन में सभा की।

राजनाथ ने कहा कि भाजपा ने इस विश्वास के संकट को चुनौती के रूप में स्वीकार किया है। हम वहीं करेंगे जो कहेंगे। हम आपकी आंखों में धूल झोंककर राजनीति नहीं करेंगे। हमें राजनीति करनी होगी तो आपकी आंख में आंख डालकर राजनीति करेंगे। राजनाथ ने राज्य की कांग्रेस सरकार पर हमला बोला। कहा- भामाशाह स्वास्थ्य योजना इतने सालों से चल रही थी। इतने लोगों का इलाज हो रहा था। इस सरकार ने उस योजना को समाप्त कर दिया।

गरीबी खत्म करने की कला मोदी से सीखें

राजनाथ ने बताया कि अमेरिका का एक थिंक टैंक ने कहा कि उसने 2016 में एक सर्वे किया था। तब साढ़े 12 करोड़ लोग गरीबी के गंभीर संकट से गुजर रहे थे। 2019 के सर्वे में सामने आया कि साढ़े सात करोड़ लोग गरीबी के संकट से बाहर हो गए हैं। उन्होंने कहा, मैं अपने कांग्रेस के मित्रों से कहना चाहता हूं कि गरीबी कैसे खत्म की जाती है इसकी कला सीखनी है तो मोदी जी से सीखें। मेरा मानना है कि जिस दिन भारत कांग्रेस मुक्त हो जाएगा उस दिन भारत भी गरीबी मुक्त हो जाएगा।

उन्होंने कहा- कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में कहा है कि अगर हमारी सरकार बन गई तो हम राष्ट्रद्रोह का कानून समाप्त कर देंगे। हमारा बस चले तो हम इस कानून को इतना सख्त बना दें कि राष्ट्रद्रोह की याद आते ही रुह कांप जाए। वहीं, पाकिस्तान का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि साल 2014 में पाकिस्तान की गोलीबारी में बीएसएफ के पांच जवानों की जान चली गई। मैंने रात को टीवी पर खबर देखकर बीएसएफ के डीजी को फोन किया। मैंने पूछा कि आपने क्या कार्रवाई की। इस पर डीजी ने कहा हमने बार 16 बार पाकिस्तान को सफेद झंडा दिखाया लेकिन पाकिस्तान का कोई जवाब नहीं मिला। फिर मैंने उनसे पूछा कि सफेद झंडा होता क्या है।

उन्होंने बताया कि सालों से परंपरा है कि कार्रवाई से पहले सफेद झंडा दिखाया जाता है। हमने पाक को 16 बार झंडा दिखाया। लेकिन वहां से कोई जवाब नहीं मिला। मैंने पूछा कि आगे क्या सोचा है। उन्होंने कहा कि हमने एक बार और सफेद झंडा दिखाने के बारे मे तय किया। इस पर मेरा खून खौल गया और मैंने फोन पर आदेश दिया कि 17वीं बार पाकिस्तान को सफेद झंडा नहीं दिखाया जाना चाहिए। भारत की ओर से पहली गोली तो नहीं चलनी चाहिए। लेकिन अगर पाकिस्तान की ओर से एक भी गोली चल जाती है तो भारत की ओर से चलने वाली गोलियों को गिना नहीं जाना चाहिए।

इस दौरान नोखा विधायक व जिलाध्यक्ष देहात बिहारी लाल विश्नोई, शहर अध्यक्ष डॉ. सत्यप्रकाश आचार्य, प्रदेश महामंत्री कैलाश मेघवाल, लोकसभा संयोजक नंदकिशोर सोलंकी, प्रभारी दशरथ सिंह शेखावत, महापौर नारायण चोपड़ा, भाजपा नेता ताराचंद सारस्वत, श्याम सिंह हाड़ला, शिवदान सिंह राजपुरोहित, पूर्व पालिका अध्यक्ष सुशीला, प्रभात सिंह, गुमानसिंह राजपुरोहित, मंडल अध्यक्ष रमेश ज्याणी, सहीराम जाट, सुरेन्द्र चारण, विजेन्द्र पूनिया, रामगोपाल सुथार, श्याम पंचारिया मंच पर आसीन रहे। महामंत्री पाबूदान सिंह राठौड़, मोहन सुराणा, जिला उपाध्यक्ष किशनाराम गोदारा, अशोक प्रजापत, कुंभाराम सिद्ध, पूराराम ढाका, हनुमान मल सांखी, सोहनलाल प्रजापत, चंपालाल गैदर, भगवान सिंह मेड़तिया, सुरेश शर्मा, महिला मोर्चा अध्यक्ष मधुरिमा सिंह, प्रमिला गौतम समेत कई भाजपा नेता सभा में उपस्थित रहे।

वाट्सएप पर खबरों के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करें
https://chat.whatsapp.com/HqC70kPx2S9FBh0Xy3cqvT

अपना उत्तर दर्ज करें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.