जेटली के रूप में देश ने एक उत्कृष्ट नेता खो दिया : बिहारीलाल बिश्नोई

0
2223

पूर्व वित्त मंत्री अरूण जेटली विलक्षण प्रतिभा के धनी थे। उन्होंने भारत सरकार में कई महत्वपूर्ण मंत्रालयों की जिम्मेदारियों का कुशलतापूर्वक निवर्हन किया। वे एक उत्कृष्ट न्यायविद व जननेता थे। उन्होंने कहा कि जेटली ने उच्च राजनीतिक मूल्यों एवं आदर्षों की बदौलत सार्वजनिक जीवन में उच्च शिखर को प्राप्त किया। यह वक्तव्य नोखा विधायक व देहात भाजपा जिला अध्यक्ष बिहारीलाल बिश्नोई ने कस्बे में आयोजित पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के निधन पर आयोजित शोक सभा में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि उन्होंने अपने व्यक्तित्व की बदौलत राजनीतिक सीमाओं के परे सभी विचारधारा के राजनीतिक दलों का आदर एवं सम्मान प्राप्त किया।

अरूण जेटली जी का निधन देश के लिये एक अपूरणीय क्षति है, जिसे कभी भरा नहीं जा सकता, उनकी कमी हमेशा खलेगी।  भाजपा नेता सुरेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि उन्हें बेहतरीन रणनीतिकार, कुशल चुनाव प्रबंधक, प्रखर प्रवक्ता, राजनीति से लेकर क्रिकेट की बारीकियों का जादूगर, उदारवादी परंतु राष्ट्रवादी विचारों से ओतप्रोत, मित्रता निभाने वाला राजनेता बताया हैं।

उन्होंने अपने शोक संदेश में कहा है कि अरुण जेटली की कमी को वर्षों तक पूरा नहीं किया जा सकेगा। मोदी ने कहा कि अगर अरुण जेटली नहीं होते तो जीएसटी लागू करना कठिन होता। विभिन्न विचारों के बीच सहमति बनाने में वे माहिर थे। चुनाव प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष एडवोकेट कृष्ण कुमार पारीक ने कहा कि अरुण जेटली का निधन ना केवल भाजपा के लिए अपूरणीय क्षति है बल्कि एनडीए और देश की कभी न पूरी होने वाली क्षति है। उन्होंने कहा कि अरुण जेटली कुशल प्रशासक, ख्यातिप्राप्त राजनेता और बड़े कानूनविद थे।

वे छात्र जीवन से ही एक ही पार्टी से जुड़े रहे और जिन्दगीभर एक ही पार्टी में बने रहे। उन्हें एक प्रखर नेता के रूप में हमेशा याद किया जाएगा। उनके निधन से देश ने एक प्रखर वक्ता खो दिया।

इसके अलावा कार्यक्रम में सावन पुरोहित, मुमताज पीर, रामकिशोर स्वामी, माणकचंद प्रजापत, रामचंद्र पुरोहित, हरिराम शर्मा, अजमल हुसैन, पुरुषोत्तम स्वामी, भंवरलाल लाल बोहरा सहित दर्जनों लोग उपस्थित रहे और पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली को श्रद्धांजलि अर्पित किये। अंत में दो मिनट का मौन रखकर पुण्य आत्मा को शांति प्रदान करने की कामना की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here