सहारा इंडिया के उच्चाधिकारी पर धमकाने की शिकायत

2442

बीकानेर khabarthenews.com

सहारा इंडिया के उच्चाधिकारी द्वारा कोलायत के पूर्व प्रबन्धक को धमकाने का मामला सामने आया है। सहारा इंडिया कोलायत शाखा के पूर्व प्रबंधक डूंगरसिंह तेहनदेसर ने आज पुलिस अधीक्षक को एक प्रार्थना पत्र प्रेषित किया है, जिसमें तेहनदेसर को सहारा के उच्चाधिकारियों द्वारा धमकाने की बात लिखी गई है। डूंगरसिंह ने बीकानेर सेक्टर प्रमुख राजेश रोहिला पर जान का खतरा व झूठे मुकद्मों में फंसाने का भय व धमकाने का आरोप लगाया है।

स्कीमों में कर रहे फेरबदल

तेहनदेसर ने लिखित पत्र में बताया है कि सहारा कम्पनी ने कार्मिकों को समय पर वेतन नहीं दिया, उनके पीएफ खातों में करोड़ों रुपए का घोटाला है। विभिन्न स्कीमों के भुगतानों को बिना जमाकर्ता के जानकारी के दूसरी स्कीमों में मनमाने ढंग से डाल दिया गया है। जमाकर्ताओं के मैच्योरिटी भुगतानों को जारी नहीं किया जा रहा है। सेबी, रिजर्व बैंक एवं अदालतों के आदेशों की खुलेआम अवहेलना की जा रही है। एजेंटों का कई वर्षों से कमीशन बकाया होना तथा जाली एवं फर्जी हस्ताक्षर व आईडी मुहर लगाकर भुगतानों को दूसरी स्कीम में फेरबदल कर जालसाजी भी की गई है।

नोटबंदी में करोड़ों का लेनदेन

नोटबंदी में करोड़ों के लेने देन सरकारी मनाही के बावजूद किया गया। जिन खातों को कोर्ट द्वारा सीज किया गया उन खातों के भुगतानों को षड्यंत्रपूर्वक दूसरी योजनाओं में सम्मिलित करने का आरोप सहारा कम्पनी पर डूंगरसिंह तेहनदेसर ने लगाया है। तेहनदेसर ने बताया कि बीकानेर सेक्टर प्रमुख राजेश रोहिला द्वारा यह भी धमकी दी गई है कि सहारा के पेरा बैंकिंग हैड ओपी श्रीवास्तव एवं जयपुर जोन के प्रमुख सीकर एरिया प्रमुख रमेश भेरूरानी तथा बीकानेर के रीजनल प्रमुख अब्दुल कामरान खफा हैं। तेहनदेसर ने बताया कि उक्त उच्चाधिकारी कम्पनी के साथ राजीनामे का दबाव देते हुए झूठे मुकदमों में फंसाने की साजिश भी रच रहे हैं।

अपना उत्तर दर्ज करें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.