प्रचार पर बैन तो हनुमान मंदिर पहुंच गए योगी

2153

Khabarthenews.com

रैली में संबोधन के दौरान ‘अली और बजरंगबली’ को लेकर की गई एक विवादास्पद टिप्पणी के बाद निर्वाचन अयोग ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के चुनाव प्रचार करने पर रोक लगा दी थी। हालांकि, इस रोक के बाद योगी मंगलवार को लखनऊ के मशहूर हनुमान सेतु मंदिर पहुंचे।

‘जय श्री राम’ के नारों के बीच योगी ने यहां पूजा-अर्चना की। राजनीतिक जानकार मानते हैं कि योगी का यह कदम वोटरों को संदेश देने का तरीका हो सकता है। बता दें कि राजनीतिक प्रचार के दौरान नेताओं द्वारा कथित तौर पर विद्वेषपूर्ण बयान देने पर सुप्रीम कोर्ट के संज्ञान लेने के बाद चुनाव आयोग सोमवार को हरकत में आया और योगी के अलावा मेनका गांधी, आजम खान और बीएसपी सुप्रीमो मायावती के प्रचार करने पर रोक लगा दी थी। नेताओं पर ये रोक अलग-अलग अवधि के लिए लगाई गई है।

मेनका गांधी के मामले में यह पहला मौका है जब किसी केन्द्रीय मंत्री को प्रचार अभियान में हिस्सा लेने पर देशव्यापी रोक लगाई गई है। वहीं, यह दूसरा मौका है जब आजम खान को आयोग द्वारा प्रचार करने से प्रतिबंधित किया गया हो। यह कार्रवाई उनके जया प्रदा पर दिए एक आपत्तिजनक बयान के बाद की गई गई है। इससे पहले, अप्रैल 2014 में लोकसभा चुनाव के दौरान आयोग ने भाजपा नेता गिरिराज सिंह को झारखंड और बिहार में प्रचार करने से रोका था। पिछले आम चुनाव के दौरान ही आयोग ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और सपा नेता आजम खान को उत्तर प्रदेश में प्रचार करने से रोका था।

अपना उत्तर दर्ज करें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.