बाफना स्कूल पहुंचे ख्याली, हंसाया, तनाव रहित रहने के बताए गुर

2361

यूथ मोटिवेशन विषय पर विद्यार्थियों को संबोधित किया

Bikaner / khabarthenews.com

शनिवार को बाफना स्कूल में विद्यार्थियों से सिने कलाकार व कॉमेडियन ख्याली सहारन रूबरू हुए। बाफना स्कूल के सीईओ डॉ. पीएस वोहरा ने ख्याली सहारन ने यूथ मोटिवेशन विषय पर विद्यार्थियों को संबोधित किया। ख्याली ने विद्यार्थियों से कहा कि किताबी ज्ञान से महत्वपूर्ण क्रियात्मक ज्ञान है।

शिक्षा के अलावा हमें व्यावहारिक ज्ञान भी प्राप्त करना चाहिए। आपकी बात-चीत करने का तरीका एवं रहन-सहन आपके व्यवहार को लोगों के सामने स्पष्ट रूप से प्रकट करता है। इसलिए हमें इन पर विशेष ध्यान देना चाहिए। हर परिस्थितियों में आनन्द प्राप्त करना चाहिए जिससे आप अपने आप को आगे बढ़ा सकते हैं। हम दुखी जब होते हैं जब हम दूसरों से प्रतिस्र्पद्धा करने लगते हैं।

उन्होंने सोशल मीडिया के सही उपयोग करने के लिए विद्यार्थियों को प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया को अच्छे ढंग से मैनेज करना चाहिए। इसके अनेक फायदे हैं, तो नुकसान भी बहुत हैं। इसके सकारात्मक पक्ष को देखना चाहिए और आगे बढऩा चाहिए। उन्होंने विद्यार्थियों को स्वयं काम करने के लिए, मितव्ययी बनने के लिए, जिम्मेदार बनने एवं त्याग करना सिखने के लिए जागरूक किया।

विद्यार्थियों ने उनसे अनेक प्रश्न भी पूछे जिसमें विद्यार्थियों ने सफलता कैसे प्राप्त की जा सकती है, सोशल मीडिया का कैसे उपयोग करें, तनाव कैसे कम किया जा सकता है, भ्रष्टाचार से देश कैसे मुक्त हो, पर्सनल्टी कैसे बनाएं, भारत की मुख्य समस्या क्या है आदि पर बहुत ही सार्थक ढंग से उन्होंने विद्यार्थियों को उत्तर दिया। संघर्ष एवं सकारात्मक तरीकों से अपने आप को कैसे स्थापित एवं अभिव्यक्त किया जा सकता है, इस हुनर को भी उन्होंने विद्यार्थियों को बताया। उन्होंने विद्यार्थियों को मानव सेवा से जुड़े रहने के लिए भी प्रेरित किया।

उन्होंने बताया कि संसार में बहुत सी भाषाएं हैं पर हंसने की भाषा और ढंग संसार में एक ही है। हंसने के अनेक फायदे होते हैं। हंसने से शरीर के आन्तरिक अंग मजबूत बनते हैं तथा हम तनाव रहित रहते हैं। उन्होंने अपने संबोधन के बीच-बीच में अनेक चुटकले भी विद्यार्थियों के सम्मुख प्रस्तुत किए। शाला के सभागार का पूरा वातावरण हंसी की चादर ओढ़े खिल-खिला रहा था। हर तरफ हंसी के फव्वारे चल रहे थे जो विद्यार्थियों को गुद-गुदा रहे थे।

इस अवसर पर शाला सीईओ डॉ. वोहरा ने ख्याली सहाराण का साफा, शॉल एवं प्रतीक चिन्ह देकर सम्मान किया तथा शाला में पधारने के लिए धन्यवाद भी दिया। डॉ. वोहरा ने बताया कि शाला इस वर्ष अपने रजत जयंती वर्ष को मना रही है जिसके अन्तर्गत पूरे वर्ष शैक्षणिक, प्रशैक्षणिक, सामाजिक सरोकार एवं यूथ मोटिवेशन के अनेकों कार्यक्रम आयोजित करती रहेंगी।

खबर द न्यूज के वाट्सएप ग्रुप में शामिल होने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें

https://bit.ly/2DYs2qS

अपना उत्तर दर्ज करें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.