कबीर यात्रा का आगाज 2 अक्टूबर से, पुलिस प्रोजेक्ट ‘ताना-बाना’ भी होगा.. देखें वीडियो

0
2628

बीकानेर (khabarthenews.com)। सांप्रदायिक सौहार्द एवं सामाजिक सद्भाव को बढ़ाते रहने की दिशा में राजस्थान पुलिस के प्रोजेक्ट ‘ताना-बाना’ के तहत लोकायन बीकानेर एवं राजस्थान पुलिस द्वारा दिनांक 2 से 7 अक्टूबर तक बीकानेर, जैसलमेर और जोधपुर क्षेत्र में राजस्थान कबीर यात्रा के चौथे चरण का आयोजन होने जा रहा है।

राजस्थान कबीर यात्रा 2018 का सत्संग-सूफियाना आगाज 2 अक्टूबर 2018 को मरुनगरी बीकानेर के रविन्द्र रंगमंच से होगा। 03 अक्टूबर को प्रात: 08 बजे संगीत सत्संग-वाणी का आयोजन आचार्य तुलसी शन्ति प्रतिष्ठान में रहेगा। कबीर यात्रा में इस बार 50 से अधिक लोक कलाकार तथा लगभग 300 देशी विदेशी यात्री राजस्थान की वाणी परंपरा को सुनने समझने के लिए आ रहे हैं। आचार्य तुलसी शांति प्रतिष्ठान, ए. यू. बैंक, पर्यटन विभाग, संत दुलाराम कुलरिया ट्रस्ट, नगर विकास न्यास तथा जे.एस.डब्ल्यू इस महत्वपूर्ण आयोजन में सहभागिता निभायेंगे। यह जानकारी यात्रा निदेशक गोपाल सिंह चौहान ने आचार्य तुलसी शांति प्रतिष्ठान में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेन्स में दी। पुलिस उपायुक्त जोधपुर (पूर्व) डॉ. अमनदीप सिंह कपूर यात्रा के संरक्षक हैं।

लोकायन के संस्थापक कृष्ण चंद्र शर्मा ने बताया कि स्थानीय लोक कलाकार गवरा देवी, ओम प्रकाश नायक, पूगल से मीर वसु बरकत खान, जैसलमेर से शकूर खान, महेशाराम, बागे खान सहित देश-विदेश में विख्यात कलाकार मदन गोपाल सिंह एवं चार यार (दिल्ली), कालूराम बामनिया (मालवा), शबनम विरमानी (बेंगलुरु), स्मिता राव बेलूर, कबीर कैफे (मुंबई), बाड़मेर से कैरा राम, दानसिंह, प्रोजेक्ट युग्म (जयपुर), राइजिंग मलंग (धर्मशाला), मधुसुदन बाउल (पश्चिम बंगाल) अपनी प्रतिनिधि वाणी सूफी रचनाओं के साथ श्रोताओं से रूबरू होंगे।

यात्रा की सहयोगी संस्था आचार्य तुलसी शांति प्रतिष्ठान के अध्यक्ष जैन लूणकरण छाजेड़ ने जानकारी दी कि राजस्थान पुलिस, लोकायन तथा पर्यटन विभाग ने वर्ष 2012 में संगीत प्रधान इस लोक उत्सव की शुरुआत की थी। प्रथम प्रयास ही इतना पसंद किया गया कि वर्ष 2016 और 2017 में लगातार राजस्थान कबीर यात्रा का दूसरा और तीसरा संस्करण आयोजित किये गये।

सत्संग-वाणी तथा सूफी कलाम केन्द्रित यह उद्देश्यपरक संगीतमय आयोजन बीकानेर, जैसलमेर तथा जोधपुर के शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में रहेगा। बीकानेर में 2 अक्टूबर के उदघाटन समारोह के पश्चात कबीर यात्रा 3 अक्टूबर को गाँव-बाप, 4 अक्टूबर को गांव-नाचना, 5 अक्टूबर को जैसलमेर तथा 6 अक्टूबर को गाँव-ओसियां में रहेगी। राजस्थान कबीर यात्रा का संगीतमय समापन समारोह जोधपुर में 07 अक्टूबर को ऐतिहासिक बावड़ी महिला बाग झालरा में होगा। टीम कबीर यात्रा का प्रयास है कि उद्देश्यपरक इस कार्यक्रम का आनंद श्रोताओं का बड़ा वर्ग उठायें। शहरी श्रोताओं के साथ-साथ ग्रामीण श्रोताओं को अधिकाधिक जोड़ा जायेगा, आमंत्रित किया जायेगा।

संस्था के अध्यक्ष महावीर स्वामी ने बताया कि संतों की वाणी एवं लोक भक्ति संगीत आधारित राजस्थान कबीर यात्रा में प्रायोजक के बतौर संगीत प्रेमी सज्जन एवं प्रतिष्ठान रूचि दिखा रहे हैं। समाज सेवक गिरिराज चांडक गाँव नाचना में प्रमुख सहयोगी हैं। जैसलमेर में मिस्टिक जैसलमेर होटल के अशरफ अली तथा आई लव जैसलमेर सहयोगी भूमिका में हैं। khabarthenews.com

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here